वाईएमसीए में नए सत्र में छह नए कोर्सों का तोहफा

 Mon, 29 May 2018 www.newsymca.com

News YMCA Faridabad

बारहवीं के बाद मल्टीमीडिया व एनीमेशन में करियर बनाने के इच्छुक छात्रों के लिए अच्छी खबर है। वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय इस सत्र से छात्रों को एनिमेशन एंड मल्टीमीडिया में स्नातक करने का मौका देगा। छात्रों को करियर की बेहतर संभावनाएं देने के लिए संस्थान में छह नए कोर्स शुरू किए जा रहे हैं। योजना के तहत छात्रों को स्नातक स्तर पर इंजीनियरिंग, विज्ञान और प्रबंधन के क्षेत्र में नए पाठ्यक्रमों का तोहफा मिलेगा।

सिविल इंजीनियरिंग में दाखिले की खुली राह

विश्वविद्यालय में इस सत्र से छात्र सिविल इंजीनियरिंग कर सकेंगे। अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद् की ओर से स्वीकृति मिल गई है। पाठ्यक्रम के तहत छात्र आधुनिक सिविल इंजीनियरिंग के क्षेत्रों जैसे निर्माण प्रौद्योगिकी, भू-तकनीकी इंजीनियरिंग, परिवहन इंजीनियरिंग, संरचनात्मक इंजीनियरिंग, पर्यावरण इंजीनियरिंग की बारीकियां पढ़ेंगे। संस्थान में कंप्यूटर इंजीनियरिंग, मैकेनिकल इंजीनियरिंग और इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग कोर्स पहले से हैं।

 

वर्तमान में कंपनियों की जरूरत को देखते हुए विश्वविद्यालय में इस सत्र में एनिमेशन व मल्टीमीडिया में बीएससी पाठ्यक्रम शुरू किया जाएगा। इस पाठ्यक्रम के तहत छात्रों को विडियो गेमिंग इंडस्ट्री की बारीकियां सीखने को मिलेंगी। साथ ही छात्र कौशल निखारकर टीवी चैनल्स, प्रोडक्शन हाउस, डिजाइन व क्रिएटिव फर्म, आईटी सॉफ्टवेयर कंपनियों में रोजगार की संभावनाएं तलाश सकेंगे।

बीएससी ऑनर्स में भी दो कोर्सों का तोहफा

साइंस स्ट्रीम में भी छात्रों को दो नए कोर्सों का तोहफा मिलने जा रहा है। छात्रों को विश्वविद्यालय में इस सत्र से बीएससी (ऑनर्स) मैथ और बीएससी (ऑनर्स) कैमिस्ट्री शुरू कोर्स करने का मौका मिलेगा। इसके अलावा संस्थान में इस सत्र से बीबीए पाठ्यक्रम की भी शुरुआत होगी। औद्योगिक इकाईयों के साथ मिलकर कोर्स के तहत छात्रों को नई जरूरतों के मुताबिक अपग्रेड किया जाएगा।

दो कोर्सों में दोगुनी की गई सीटें

विश्वविद्यालय में पहले से चल रहे बीटेक (कम्प्यूटर इंजीनियरिंग) और मास्टर्स ऑफ कम्प्यूटर एप्लीकेशन्स (एमसीए) पाठ्यक्रमों में सीटों की संख्या इस सत्र से दोगुनी होंगी। बीटेक में सीटों की संख्या 60 से बढ़ाकर 120 और एमसीए में 30 से बढ़ाकर 60 कर दी गई हैं। इसके बाद इन कोर्सों में दाखिला लेने वाले छात्रों को दाखिले के ज्यादा विकल्प मिलेंगे।

प्रवेश प्रक्रिया से दाखिले होंगे

विश्वविद्यालय के बीटेक के सभी पाठ्यक्रमों के लिए दाखिला हरियाणा राज्य तकनीकी शिक्षा सोसाइटी (एचएसआईईटी) के माध्यम से जेईई मुख्य परीक्षा में प्राप्त रैंकिंग के आधार पर काउंसलिंग के जरिए किया जाता है। वहीं बाकी पाठ्यक्रमों के लिए दाखिला विश्वविद्यालय स्तर पर आयोजित होने वाली प्रवेश परीक्षा के जरिए होगा। संस्थान की ओर से दाखिले का शेड्यूल जल्द ही जारी कर दिया जाएगा।

शुरू होने वाले नए कोर्स और सीटें

सीटें कोर्स

60 बीटेक (सिविल इंजीनियरिंग)

60 बैचलर्स ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन (बीसीए)

40 बीएससी इन मल्टीमीडिया एंड एनीमेशन

60 बीएससी (ऑनर्स) मैथ

60 बीएससी (ऑनर्स) कैमिस्ट्री

60 बैचलर्स ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (बीबीए)

इन कोर्सो में बढ़ी सीटें

60 मास्टर्स ऑफ कंप्यूटर एप्लीकेशन (एमसीए)

120 बीटेक (कंप्यूटर इंजीनियरिंग)

इस नंबर पर ले सकतें हैं कोर्सों की जानकारी

0129-2310160

ये है संस्थान की वेबसाइट

http://www.ymcaust.ac.in

बीटेक में दाखिले को यहां मिलेगा शेड्यूल

http://www.hstes.org.in

——————

दाखिले का संभावित शेड्यूल

– जून दूसरे सप्ताह में शुरू होंगे ऑनलाइन आवेदन

– जुलाई पहले सप्ताह में होगी प्रवेश परीक्षा

– जुलाई दूसरे सप्ताह में आएगी पहली मेरिट सूची

– जुलाई तीसरे सप्ताह में होगी पहली काउंसलिंग

– जुलाई अंत तक चलेगा दाखिले का दौर

– 1 अगस्त से शुरू होंगी कक्षाएं

———————

भविष्य के लिए छात्र होंगे तैयार

प्रो. दिनेश कुमार, कुलपति, वाईएमसीए: छात्रों को स्नातक स्तर पर बेहतर कोर्स देने और कई संकायों का दायरा बढ़ाने के लिए नए कोर्सों की शुरुआत की गई है। वहीं पिछले साल की मांग को देखते हुए दो कोर्सों में सीटें भी बढ़ाई हैं। छात्रों को भविष्य में रोजगार के बेहतर संसाधन मिले यही मकसद है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here