खुद पर रखें विश्वास, सफलता जरूर मिलेगीः प्रो. अनायत

इंडक्शन कार्यक्रम में बोले मुरथल विश्वविद्यालय के कुलपतिVice-Chancellor of DCRUST, Murthal in YMCA induction prog. www.newsymca.com News YMCA JC bose ymca university Faridabad

www.newsymca.com News YMCA JC bose ymca university Faridabad
फरीदाबाद, 6 सितम्बर – वाईएमसीए विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, फरीदाबाद द्वारा बीटेक प्रथम वर्ष के विद्यार्थियों के लिए चलाये जा रहे इंडक्शन कार्यक्रम को आज दीनबन्धु छोटूराम विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, मुरथल के कुलपति प्रो. राजेन्द्र कुमार अनायत ने संबोधित किया तथा विद्यार्थियों को जीवन में आत्मविश्वास के लिए प्रेरित किया। 
कुलपति प्रो. दिनेश कुमार की अध्यक्षता में आयोजित सत्र को संबोधित करते हुए मुद्रण तकनीक के प्रमुख अकादमीशियन प्रो. राजेन्द्र कुमार अनायत ने विद्यार्थियों के साथ अपने जीवन के अनुभव साझे किये और बताया कि किसी प्रकार एक साधारण परिवार से निकलकर उन्होंने एक अकदमीशियन तथा कुलपति बनने तक का सफर तय किया। 
प्रो. राजेन्द्र कुमार ने कहा कि उनका संबंध केरल के एक साधारण परिवार से है, जहां पढ़ाई के लिए प्राथमिक पाठशाला से कालेज तक का उनका जीवन काफी संघर्षपूर्ण रहा। उनकी मातृभाषा मलयाली थी, जिस कारण अंग्रेजी ठीक से नहीं बोल पाते थे। लेकिन, उन्होंने अपने प्रयासों में कोई कोर-कसर नहीं छोड़ी। उन्होंने बताया कि बीटेक में उनका चयन प्रिंटिंग व मीडिया इंजीनियरिंग की ब्रांच में हुआ। आमतौर पर प्रिंटिंग व मीडिया इंजीनियरिंग ऐसी ब्रांच है, जो कम्प्यूटर व इंजीनियरिंग की अन्य ब्रांच की तुलना में करियर की दृष्टि से अनुकूल मानी जाती। लेकिन, उन्होंने इसे चुनौतीपूर्ण लिया और प्रिंटिंग व मीडिया इंजीनियरिंग में एमटेक व पीएचडी की। उन्होंने कहा कि प्रिंटिंग व मीडिया इंजीनियरिंग के क्षेत्र में अपनी विशेषज्ञता के कारण ही आज वे 52 देशों तथा दुनिया के 77 विश्वविद्यालयों का भ्रमण कर चुके है। प्रो. अनायत ने बताया कि विद्यार्थियों को अपनी कमजोरियों को अपनी क्षमताओं पर हावी नहीं होने देना चाहिए। 
उन्होंने विद्यार्थियों को जीवन में लक्ष्य पर ध्यान केन्द्रित करने के लिए प्रेरित किया। उन्होंने कहा कि महत्वपूर्ण यह नहीं है कि आप कितना ज्ञान रखते है, अपितु अधिक महत्वपूर्ण यह है कि आपके द्वारा अर्जित ज्ञान का सही उपयोग सुनिश्चित हो। उन्होंने विद्यार्थियों से आह्वान किया कि वे जीवन में लक्ष्य निर्धारित करें तथा उसे प्राप्त करने के लिए निरंतर प्रयास करें। कार्यक्रम के अंत में कुलपति प्रो. दिनेश कुमार ने प्रो. राजेन्द्र कुमार अनायत को सम्मान स्वरूप स्मृति चिह्न प्रदान किया। कार्यक्रम का संयोजन डाॅ. सोनिया बंसल द्वारा किया गया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here